Free Keyword Research Method

आप एक Blogger है, या ब्लॉग्गिंग स्टार्ट किया है तो आपके के मन में यह सवाल जरूर आता होगा कि Keyword Research Method क्या हैं अपने blog पर traffic लाने के लिए Keyword Research करते हैं आपको इन 2 बातों पर ध्यान देना होगा,पहला है high quality article और दूसरा है keyword research यदि आप इन दो बातों पर ज्यादा ध्यान देते हैं तो अपने post को rank करने के लिए आपको SEO में ज्यादा कुछ करने की जरूरत नहीं है।

अगर आप सही कीवर्ड चुनते हैं तो आप जल्दी या बाद में सफल हो सकते हैं। और इसके विपरीत अगर आप बिना किसी खोज के कीवर्ड चुनते हैं तो आप असफल हो सकते हैं और आपके सभी कोशिश बर्बाद हो सकते हैं। आज हम इस आर्टिकल में Keyword Research क्या है, Keyword Research कैसे करते हैं, Free Keyword Research Method क्या है, इन सब टॉपिक पर बात करेंगे।

Don’t Miss: Popular Blog Ideas For Beginners

Keywords क्या हैं ?

Keyword क्या है Internet पर कुछ भी ढूंढने के लिए हम कीवर्ड का इस्तेमाल करते है। क्युकी गूगल keyword से ही समझ पाता है की content किस बारे में है। Keywords ऐसे important Words होते हैं जिससे की Search Engine को ये पता चलता है की आपकी Website या Blog किस बारे में है।

कीवर्ड एक ऐसा शब्दः या वाक्य होता है जिसके द्वारा लोग आपकी post को सर्च इंजनों में आसानी से ढूंढ सकते हैं। जिस टॉपिक पर आप पोस्ट लिख रहे हैं उसे ज्यादातर लोग किस तरह से गूगल पर सर्च करते हैं यह बहुत important रखता है क्योंकि इस हिसाब से आपको अपनी पोस्ट में शब्दों को पेश करना पड़ता है। 

एक उदाहरण से समझते हैं Keyword क्या है आपने एक पोस्ट लिखा “सुबह जल्दी कैसे उठें” आपका Keyword हो गया सुबह जल्दी कैसे उठे फिर इंटरनेट यूजर आपके पोस्ट को गूगल पर सर्च करने के लिए टाइप करता है ‘How to wake up early in hindi’ कर सकते हैं।

तो यह भी आपका एक keyword हो गया। जिससे कि यूज़र को आसानी से आपका पोस्ट मिल गया इसी को Keyword कहते हैं। आप अपने आर्टिकल में इन sentences/phrases को शामिल करके अपने आर्टिकल को Keyword और SEO optimised बना सकते हैं।

Keyword Research क्यों महत्वपूर्ण है ?

keyword Research क्यों महत्वपूर्ण है आइए जानते हैं कि जिस टॉपिक पर आप ब्लॉक पोस्ट लिखना चाहते हैं उसमें लोगों का इंटरेस्ट है या नहीं। और वे कौन-कौन से कीवर्ड्स है जिसकी सहायता से आप अपनी पोस्ट को आसानी से रैंक करवा सकते हैं।

क्योंकि कीवर्ड रिसर्च से पता चल जाता है कि यूजर क्या तलाश कर रहे हैं और कौन से कीवर्ड का सर्च वॉल्यूम अच्छा है। साथ ही कौन से कीवर्ड्स की रैंकिंग अच्छी है। और कौन से कीवर्ड्स का कंपैरेटिव स्कोर कम है। इन सब बातों को जानने के लिए कीवर्ड रिसर्च करना बहुत जरूरी है।

keyword research क्यों करें ?

keyword research SEO का एक महत्वपूर्ण Part है, इसकी मदद से आप अपने ब्लॉग पोस्ट को सर्च इंजन में रैंक करवा सकते हैं और अपने ब्लॉग पर ट्राफिक ला सकते हैं। अगर हम Keyword को बिना सर्च किये अपनी blog पोस्ट को publish करे।

इसका परिणाम यह होता है कि Blog Post को Rank करवाना मुश्किल हो जाता है। साथ ही Traffic का नुकसान होता है, सो अलग। इसीलिए कीवर्ड रिसर्च बहुत जरूरी है।

keyword research कैसे करें ?

अब सवाल यह है कि Keyword Research कैसे करें मतलब कि कीवर्ड रिसर्च करने का सही तरीका क्या है? सबसे पहले उस टॉपिक को सिलेक्ट कीजिए जिस पर आपको पोस्ट लिखनी है। उसके बाद अपने Topic से Related Keyword को गूगल पर सर्च करके मालूम करें।

Keyword Research करते समय हमें बहुत से Keywords मिलते हैं जिस पर कि आप Post लिख सकते हैं। लेकिन आपके लिए सबसे सही Keyword का चुनाव करना कुछ चीजों पर निर्भर करता है जैसे कि Search Volume क्या है?, SEO Difficulty क्या है?, CPC क्या है? आपको इन्हीं चीजों के आधार पर अपने लिए सबसे सही Keyword को चुनना है।

keyword research कब करें ?

keyword research तब करना चाहिए जब आप एक नया वेबसाइट या ब्लॉग बनाना चाहते हैं तो आपको keyword research करने की आवश्यकता होती है। क्योंकि ब्लॉग के लिए आपको आर्टिकल लिखना है और आर्टिकल को सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन पर रैंक करवाने के लिए आपको keyword research करने की जरूरत पड़ती है। जब आप कोई नया पोस्ट लिखना चाहते हैं तब आपको keyword research करना चाहिए।

keyword research किसे करनी चाहिए ?

keyword research उस व्यक्ति को करना चाहिए जो वेबसाइट या ब्लॉगर का मालिक हो या SEO विशेषज्ञ जो सर्च इंजन के बारे में ज्यादा नॉलेज रखता हो keyword research आप किसी व्यक्ति से करवा सकते हैं या खुद कर सकते हैं।

बस यह बात ध्यान में रखें आप जो भी keyword research कर रहे हैं Searching Volume कितना है, और क्या इस keyword को अच्छे से rank करवा सकते हैं गूगल में जिससे आपके वेबसाइट में ट्राफिक आ सके।

Keyword Research से Related कुछ Terminologies के बारे में आइए बात करते हैं जब आप Keyword सर्च करते हैं तो उनमें एक मेन Keyword होता है जिसे हम Seed keywords के नाम से जानते हैं। एक उदाहरण से समझते हैं जैसे ईमेल मार्केटिंग एक मेन Keyword है। इसी तरह से अगर आपका शूज की दुकान है और इसे ऑनलाइन सर्च करना चाहते हैं तो इसमें शूज आपका Seed keywords होता है।

शूज एक मेन कीवर्ड है जब आप गूगल पर सर्च करते हैं तो शूज से रिलेटेड आपको बहुत सारे कीवर्ड नजर आएंगे। इसी तरीके से मोबाइल भी एक Seed keywords होता है। Seed keywords generally 1 वर्ड का या 2 वार्ड का होता है।

Step 1: बस यहां जाएं Ahref Tool

आप नीचे स्क्रीन देख सकते हैं

Free Keyword Research Tool

Step 2: मैं यहां पर गूगल को सिलेक्ट कर रहा हूं आप इनमें से किसी को भी सिलेक्ट कर सकते हैं Bing, Youtube, Amazon

Step 3: आप यहां पर उस देश को सिलेक्ट कर सकते है जिसमें आप अपने Keyword रैंक कितना है देखना चाहते हैं।

Step 3:यहां से आप Find keyword button को push करें और captcha फील करके आप ढेर सारा कीवर्ड्स देख सकते हैं स्क्रीन पर

Email Marketing

Search Volume क्या होता है ?

Search Volume मतलब कि वह Keyword महीने में कितनी बार Google पर सर्च किया जाता है। अगर कोई Keyword महीने में 2000 बार सर्च किया जाता है तो उसकी Search Volume 2000 होगी। अगर आप ज्यादा Search Volume वाले Keyword पर Post लिखते हैं तो आपके blog पर traffic भी अधिक आएगा।लेकिन ज्यादा search volume वाले keywords पर अधिक competition होता है।

KD (Keyword Difficulty) क्या होता है ?

keyword difficulty को समझना बहुत जरूरी है। यदि आप Blogging में सफलता पाना चाहते हैं तो आपको keyword difficulty को समझना होगा। keyword difficulty का सीधा सा मतलब है कि कोई keyword को Google पर first page में rank करवाने में कितनी मुश्किल का सामना करना पड़ता है। इसे कई बार SEO difficulty, Ranking difficulty भी बोलते है। keyword difficulty को 1-100 के बीच में नापा जाता है।

0 से 10 के बीच वाली keyword difficulty को easy समझा जाता है। 11 से 30 के बीच वाली keyword difficulty को Medium समझा जाता है। 31 से 70 के बीच वाली keyword difficulty को Hard समझा जाता है। 71 से 100 के बीच वाली keyword difficulty को Super Hard  समझा जाता है। 

Updated

अब बात करते हैं Updated की keyword Research करने के tool जो होते हैं वो अपना डाटा कितने फ्रिकवेंसी में Updated करते हैं। मतलब कितने दिनों में Update करते हैं या कब-कब Update करते हैं डाटा को। वो उस keyword Research tool के डाटा को कब Update किया था इसकी जानकारी को ही Update कहते हैं।

Keyword Density क्या होता है ?

आप अपने आर्टिकल में कितनी बार targeted keyword यूज करते है। एक उदाहरण से समझते हैं, अगर किसी आर्टिकल में 700 शब्द हैं और 7 बार targeted keyword का यूज किया है, तो इसका मतलब है कि आर्टिकल में Keyword Density 1% है।

Keyword Density बहुत कम मायने रखती है। गूगल user experience को ध्यान में रखते हुए आर्टिकल लिखने का सुझाव देता है। अपने आर्टिकल में कीवर्ड को स्मार्ट तरीके से यूज करें और अपने कीवर्ड को सही स्थानों पर रखें। इससे आपको बेहतर रिजल्ट मिलेंगे।

Focus Keyword क्या होता है ?

Focus keyword एक ऐसा keyword होता है जिस पर ज्यादा फोकस किया जाता है मतलब की एक ऐसा कीवर्ड जो गूगल को ये बता सके की आपका पोस्ट का Main Topic क्या है और जब गूगल समझ जाता है तो आपका पोस्ट रैंक होने लगता है | यह हमारे आर्टिकल का Title होता है जिससे हमारे आर्टिकल को पहचान मिलती है। और साथ मे यह हमारे आर्टिकल को रैंक कराने की क्षमता भी रखता है।

Keyword Gap क्या होता है ?

Keyword Gap आपके कीवर्ड और आपके Competitors के Keyword के बीच का अंतर बताता है। या आपको उन कीवर्ड को खोजने में मदद करता है जिन Keyword को आप खोजना चाहते है। इस जानकारी से आप अपने पास एक Keyword की लिस्ट बना सकते हैं जिससे आप अपने Competitors से प्रतियोगिता का सकते हैं।

Keyword Ranking क्या होता है

जब आप एक आर्टिकल लिखते हैं तो उसमें कुछ स्पेशल Keyword भी डालते हैं और सभी Keyword का अपना एक रैंक होता है जो समय समय पर बदलता रहता है। हर एक Keyword का रैंक चेक करने के लिए गूगल पर जाकर टाइप करते हैं उसकी Keyword को और यह चेक करते हैं।

गूगल के कौन से पेज पर यह Keyword शो कर रहा है। जहां से आपको उसकी Keyword के मदद से आपका आर्टिकल गूगल के फर्स्ट पेज पर रैंक करता है उस पोस्ट पर आर्गेनिक व्यू मिलना शुरु हो जाए तो हम उसे कीवर्ड रैंकिंग कहते है।

Keyword Value (in CPC) क्या होता है

CPC का मतलब है Cost पर Click यानी कि हर Click की कीमत आपके ऐड पर Click होने के बाद आपको उसका कितना पैसा मिलेगा या और एक Click की कीमत CPC कहलाती है। यानी कि अगर आपके blog पर दिखाई जा रही Ads पर कोई Click करता है तो हर Click पर मिलने वाली Cost को CPC कहा जाता है हाई CPC कीवर्ड ऐसे कीवर्ड्स होते हैं जिनके लिए एडवर्टाइज ज्यादा वेडिंग करते हैं हाई CPC कीवर्ड्स का यूज करते हैं। तो आप के Earning काफी हद तक बढ़ जाती है। यही इसका सबसे बड़ा फायदा है।

Question Keywords

अब बात करते हैं Question Keywords क्या होता है Question Keywords उन Keywordsको कहते हैं। इंटरनेट यूजर जब गूगल पर कोई Question से रिलेटेड Keywords सर्च करता है जैसे क्या, क्यों, कब, एक उदाहरण से समझते हैं Question Keywords को मान लीजिए किसी को जानना है ईमेल मार्केटिंग क्या है ? तो यह एक Question Keywords कहलाता है क्योंकि ईमेल मार्केटिंग ये मेन Keywords है और क्या हैं ये Question Keywords है। इस तरह के Keywords को Question Keywords कहते हैं।

आप नीचे गए स्क्रीनशॉट में Question Keywords को साफ-साफ देख सकते हैं।

Question Email Marketing

Longtail Keywords क्या होता है ?

Long Tail Keywords एक तरह का ऐसा keyword होता जिनमें 4 या उससे अधिक words शामिल होते है या कोई पूरा का पूरा phrase होता है। किसी भी New Blogger को अगर अपनी साइट को कम से कम समय में रैंक कराना हैं तो उसे Blog Post के लिए ज्यादा से ज्यादा Long Tail Keywords को Use करना चाहिए। जब आप इस तरह के keywords से अपनी साइट को Optimize करते है, तो आपको अच्छा रिजल्ट मिलता है और इस तरह के keywords पर competition भी बहुत कम होता है।

ऊपर दिए गए स्क्रीनशॉट में आप Long tail keywords को देख सकते।

User Intent for a Keyword क्या होता है ?

Search Intent को user Intent और audience Intent भी कहते है जिसका मतलब होता है user के इरादे की वो एक Specific Keywords से Search Engine में क्या ढूंढ़ना चाहता है।और इंटरनेट में उपलब्ध Website Content से वो उस website/Blog को सामने लाता है जिस में user के लिए सही Information दी हुए होते है ।

Keyword Stuffing किसे कहते हैं ?

Keyword Stuffing उसे कहते हैं जब आप कोई आर्टिकल लिखते हैं उसमें जो Main keyword है उस Main keyword को अपने आर्टिकल में ज्यादा वर यूज करना ही Keyword Stuffing कहते हैं। Keyword Stuffing के द्वारा Blogger Page के Content और Meta tag में एक ही Keyword यानि की Main keyword को बार बार use करता है और ऐसा करके page की रैंकिंग को बढ़ाया जा सकता जिससे site मे traffic भी बढ़ जाता है।

Keyword Stuffing, Search Engine Optimization (SEO) का ही एक technique है जिसे Black Hat SEO कहते हैं। और इस technique मे page को गलत तरीके से Google के पहले page मे रैंक कराया जाता है लेकिन यह एक temporary तरीका है इससे आपके page मे traffic तो कुछ समय के लिए बढ़ जाता है परंतु जैसे ही Google को यह पता लगता है।

की आपने keyword Stuffing किया है। तो आपके site की ranking down हो जाती है तथा कभी भी रैंक नहीं कर सकता। इसके अलावा ऐसा करने से Google आपके site पर penalty लगा दे या site को temporary या permanently हमेशा के लिए बंद भी कर दे इसी लिए किसी भी नये bloggers के लिए keyword Stuffing के बारे में पहले ही जान लेना चाहिए।

Google considers as keyword stuffing

Check the Keyword Search Volume

अब बात करते हैं Check the Keyword Search Volume के बारे में जब आप Keyword research करते हैं आपको देखना है कौन से Keyword लोग ज्यादा गूगल पर सर्च कर रहे हैं। और Keyword research का मुख्य कारण है हम ऐसे keywords ढूंढे जिनको लोग search कर रहे हैं और उन पर बहुत सारा traffic आ रहा हो क्योंकि जितना ज्यादा आपके blog पर traffic आएगा उसी हिसाब से आप पैसे कमा सकते हैं।

CPC Value of Keyword

प्रत्येक कीवर्ड की कुछ न कुछ वैल्यू होती है जिस पर Bidding की जाती है। CPC का मतलब है Cost Per Click यानी कि हर Click की कीमत, आपके एड पर क्लिक होने के बाद आपको उसका कितना पैसा मिलेगा या उस एक Click की कीमत CPC कहलाती है।

The Best Keyword Research Tools

अब बात करते हैं Best Keyword Research Tools कौन-कौन से है जिनसे आप आसानी से Keyword Research कर सकते हैं। ऐसे tools जो की हर एक Bloggers का काम आसान कर दें। यदि आपको मेरे द्वारा बताई जाने वाली Tools के बारे में पहले से पता है तो वो बहुत अच्छी बात है और यदि नहीं पता तो चिंता करने की कोई भी जरुरत नहीं है। जैसे की हमें ये बात तो अच्छी तरीके से पता है।

की SEO की basic foundation होती है Keyword Research से ही हम अपने आर्टिकल्स को अच्छे से रैंक करवा सकते हैं। Fortunately हमारे पास सही keywords को चुनने के लिए बहुत से Tools online available हैं और जिसका इस्तमाल करके हम ये पता लगा सकते हैं की कोनसी keywords हमारे लिए उपयोगी हैं।

  1. Ahrefs एक premium Keyword research tool है जो आपके website के लिए अच्छे कीवर्ड खोजने में मदद करता है और competitor पर नजर रखता है।

  2. Google Keyword Planner सबसे best जगह है keyword research को आरम्भ करने के लिए. इसे Advertising के लिए design किया गया है मगर आप इसका इस्तमाल करके organic keywords को खोज सकते हैं अपने search result को customize करके।

  3. Uber Suggest एक बहुत ही काम में आने वाली tool है। ये एक ऐसी keyword tool हैं जिसकी मदद से आप किसी भी keyword के related सभी search होने वाली keyword suggestion प्राप्त कर सकते हैं।

  4. Keywordtool.io एक online keyword research instrument हैं जो की Google Autocomplete की feature का इस्तमाल करता है और सेकड़ों long-tail keyword relevant खोजकर देता है।

  5. Keyword Revealer ये एक बहुत ही बेहतरीन keyword research tool हैं जिसे की सभी को एक बार तो try करना चाहिए. क्यूंकि ये इतना fast है की इसमें Okay button भी मेह्जुद नहीं है research campaign को start करने के लिए।

  6. KW Finder सिर्फ एक अच्छा keyword suggestion tool नहीं है, इसके साथ ये बहुत सी जरुरी information भी प्रदान करता है जैसे की कोन सी keyword कितनी competitive है. वो भी सभी factors के साथ जैसे की SEO, PPC advertising, Search Volume. इससे KW Finder के user को बहुत ही आसानी होती है Keyword Research में।

  7. SEMrush यह मेरी सबसे पसंदीदा टूल में से एक है जो आपको keyword research करने के साथ साथ अपने competitor पर भी नजर रखने में मदद करता है।

निष्कर्ष

आपको इस post के जरिए keyword research Method के बारे में समझ में आ गया होगा और आप इसकी importance को भी समझ चुके होंगे।

मेरा हमेशा से यही कोशिश रहा है की मैं हमेशा अपने Readers का हर तरफ से हेल्प करूँ, अगर आप लोगों को किसी भी तरह की कोई भी doubt है तो आप मुझे बेझिजक पूछ सकते हैं। इस आर्टिकल के बारे में आपको यह लेख Free Keyword Research Method कैसा लगा हमें comment लिखकर जरूर बताएं ताकि हमें भी आपके विचारों से कुछ सीखने और कुछ सुधारने का मोका मिले।

मेरा आप सभी पाठकों से गुजारिस है की आप लोग भी इस जानकारी को अपने आस-पड़ोस, रिश्तेदारों, अपने मित्रों में Share करें, जिससे की हमारे बिच जागरूकता होगी और इससे सबको बहुत लाभ होगा। मुझे आप लोगों की सहयोग की आवश्यकता है जिससे मैं और भी नयी जानकारी आप लोगों तक पहुंचा सकूँ।